Jodhraj Laddha

Shri Jodh Raj Laddha (President, Akhil Bharatvarshiya Maheshwari Mahasabha)

Jodhraj Laddha

मानव एक सामाजिक प्राणी है तथापि अधिकतर लोग अपनी मूल प्रकृति से विपरीत हित साधन को ही जीवन का लक्ष्य मान लेते है। किन्तु इनसे हटकर कुछ लोग ऐसे होते हैं जो खुद के जीवन को राष्ट्र एवं समाज की धरोहर मानते हैं, व्यक्ति में समष्टि का दर्शन करते हैं और परहित साधन में जीवन की धन्यता का अनुभव करते हैं। ऐसे ही भाग्यशाली जीव समाज और राष्ट्र की अंतरंगता, प्रियता एवं सम्मान के सच्चे अधिकारी होते हैं। समाज और राष्ट्र ऐसे ही सरल व्यक्तित्व से असाधारण कृतित्व की अपेक्षा एवं आकंक्षा रखते हैं। अखिल भारतवर्षीय माहेश्वरी महासभा के अध्यक्ष श्री जोधराजजी लड्ढ़ा की गणना ऐसे ही सरल व्यक्तित्व किन्तु असाधारण कृतित्व में सक्षम समाज व देश निष्ठ व्यक्तियों में की जाती है। इनके सेवामूलक कार्यों को देखते हुये इन्हें वर्ष 2005 में नागरिक सेवा के सर्वोच्च सम्मान ‘भामाशाह सेवा सम्मान’ से नवाजा गया। इसके बाद वर्ष 2012 में ‘मदर टेरेसा अवार्ड’ और फिर वर्ष 2013 में अमेरिका में ‘भारत गौरव’ सम्मान से अलंकृत किया गया।

श्री जोधराजजी का जन्म 27 जनवरी 1937 में हुआ। इनकी स्नातक तक शिक्षा अजमेर और स्नातकोत्तर शिक्षा ब्यावर (राजस्थान विश्वविद्यालय) से हुई। वर्ष 1960 में इन्होंने राजस्थान विश्वविद्यालय से एम.कॉम. किया। पढ़ाई के दौरान ही इन्होंने सन् 1956 से ब्यावर में टेलिफोन विभाग में नौकरी करनी शुरु कर दी। इसके बाद कलकत्ता विश्वविद्यालय की सायंकालीन कक्षाओं में अध्ययन करके 1964 में बिजनेस मैनेजमेंट में डिप्लोमा प्राप्त किया। इस दौरान एल.आई.सी. एजेंट के रुप में भी कार्य शुरु किया साथ-साथ वित्तिय क्षेत्र में स्वतंत्र व्यवसाय करने के लिये इन्होंने 6 नं. रसेल स्ट्रीट, कोलकाता में जे. आर. लड्ढा फाइनेंशियल सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड की स्थापना की, जिसकी शाखाएं आज देश के कई महत्वपूर्ण शहरों में है।

राजस्थान के अजमेर जिले का एक छोटा सा गाँव तबीजी में रहनेवाले इनके पिताजी श्री मिलापचंद लड्ढा एवं माताजी श्रीमती केलीदेवी लड्ढा बेहद सरल प्राकृति के व्यक्ति थे। पांच वर्ष की आयु में ही इनके पिताजी का निधन हो गया। विषम स्थिति में भी इनकी माँ ने कई कठिनाईयों का सामना करते हुए इनकी अच्छी परवरीश करती रहीं। साथ ही अपने इस छोटे से बालक को प्रेरणा देती थी कि बेटे जीवन में हमेशा गरीबों की सेवा करना। ये बात बेटे के कान में से होते हुए सिर्फ दिल तक ही नहीं पहुंची, बल्कि खुन की बुंद-बुंद में बस गई। जैसे-जैसे समय बीतता गया उसकी प्रतिभा, ईमानदारी, कड़ी मेहनत की वजह से संघर्षमय बहती हुई नदी की तेज रफ्तार से वो ऐसे आगे बढ़ा कि नदी के दो किनारों में से एक किनारा पर उनका भारत के कई अग्रणी प्रतिष्ठित उद्योगपतियों से सम्पर्क बनता गया। इनमें श्री बसंतकुमार बिड़ला, श्रीमती सरला देवी, डॉ. सचदेव बिड़ला, विडियोकॉन ग्रुप के श्री वेणुगोपाल धूत, बिनानी इन्डस्ट्रीज के अध्यक्ष श्री ब्रज बिनानी, श्रीमती पदमादेवी बिनानी, आदित्य बिड़ला ग्रुप के अध्यक्ष श्रीमती राजश्री बिड़ला, ऊषा मार्टिन के अध्यक्ष श्री बी.के. जवन, एच.एन.जी. के अध्यक्ष श्री सी.के. सोमानी आदि जैसी महान प्रतिभाएं थी। जब नदी के दूसरे किनारे से भारत के परम संत गण में से गोस्वामी श्री मथुरेश्वर जी महाराज, गोस्वामी श्री इंदिरा बेटी जी महोदया, श्री श्रीजी महाराज, निवृत शंकराचार्य स्वामी श्री सत्यमित्रानंद जी महाराज, श्री गोविंददेव गिरी जी महाराज (श्री किशोर व्यासजी), श्री कल्याणनंद सरस्वती जी महाराज, श्री द्रुमिलकुमार जी महाराज, श्री व्रजराजकुमार जी महाराज, श्री मिलन बाबा जी महाराज, श्री वल्लभाराय जी महाराज से आशीर्वाद और प्रेरणा मिलती गई। इस यात्रा में उनकी अर्धांगनी श्रीमती सुरज देवी लड्ढ़ा भी साथ हैं।

लोकोपकारी कार्यों के पक्षधर, प्रेरक और सहयोगी होने से लड्ढाजी अनेक सामाजिक संस्थाओं के ट्रस्टी, अध्यक्ष व संरक्षक रहकर कुशल मार्गदर्शन कर रहे हैं। जनवरी 1999 में पुष्कर के माहेश्वरी सेवा सदन में हुए अखिल भारतवर्षीय माहेश्वरी महासभा के अधिवेशन में स्वागताध्यक्ष के रुप में कार्य किया। इस अधिवेशन में हमारे गौरवशाली ट्रस्ट श्री आदित्य विक्रम बिड़ला मेमोरियल व्यापार सहयोग केंद्र का गठन हुआ था। अप्रैल 2000 में हरिद्वार में आयोजित माहेश्वरी महाकुम्भ और माहेश्वरी सेवा सदन, हरिद्वार, के लोकार्पण समारोह में स्वागताध्यक्ष होने का अवसर मिला। जून 2001 मे वृन्दावन में माहेश्वरी भवन के उद्घाटन और मूर्तियों की प्राण प्रतिष्ठा समारोह में मुख्य अतिथि थे। अक्टूबर 2003 में नाथद्वारा में आयोजित स्वामी मथुरेश्वरजी महाराज, बड़ौदावाले की भागवत कथा में स्वागताध्यक्ष रहे। वर्ष 2003 में नासिक के कुम्भ मेले में आज्ञानुवर्तिनी सिंहस्थ कुम्भ महापर्व राष्ट्रीय समिति के अध्यक्ष के रुप में सेवाएं प्रदान की। वर्ष 2003, नासिक के कुम्भ मेले के दौरान नासिक में सम्पन्न महासभा की कार्यकारी मंडल की बैठक में स्वागताध्यक्ष के रुप में कार्य करने का सौभाग्य प्राप्त हुआ। वर्ष 2004 में उज्जैन में कुम्भ महापर्व राष्ट्रीय समिति के अध्यक्ष के रुप में सेवा प्रदान की। अक्टूबर 2004 में सप्ताहव्यापी गोवर्द्धन महोत्सव के अध्यक्ष रहे। अखिल भारतवर्षीय श्री निम्बकाचार्य पीठ निम्बकातीर्थ, सलेमाबाद, किशनगढ़, अजमेर में नवम्बर 2004 में श्री भगवन्निम्बर्काचार्य के 5100वें जयंती महोत्सव का भव्य आयोजन हुआ, इस आयोजन में उप स्वागताध्यक्ष का दायित्व पालन किया। वर्ष 2005 में हरिद्वार में आयोजित दो दिवसीय माहेश्वरी महाकुम्भ के स्वागताध्यक्ष के रुप में दायित्व पालन किया, जहां 5000 से अधिक माहेश्वरी बंधओं ने शिरकत की। वर्ष 2007 में श्री लक्ष्मीनारायण महायज्ञ समिति, कोलकाता के अध्यक्ष के रुप में भी अपनी सेवाएं दी। वर्ष 2008 में अजमेर में माता-पिता (मिलापचंद लड्ढा-केलीदेवी लड्ढा) के नाम पर सेवा केंद्र का निर्माण करवाया। वर्ष 2012 के जनवरी में गुजरात के श्री सोमनाथ ट्रस्ट द्वारा बनाये जा रहे श्री सोमनाथ माहेश्वरी समाज अतिथिगृह के शिलान्यास समारोह में भूमि पूजन किया। अपने पैतृक निवास स्थान अजमेर जिले की कई सामाजिक संस्थाओं से प्रत्यक्ष व सक्रिय रुप से जुड़े हुए हैं।


Biography

Basic Info…
Name: Shri Jodh Raj Laddha
Born: 27 January 1937
Education : M.Com (Rajasthan University)
Profession : Business

Family Member Info…
Father : Late Shri Milapchand Laddha
Mother : Late Smt. Keli Devi

Wife : Smt. Suraj Devi Laddha

Son:
Mr. Arun Laddha
Mr. Sanjay Laddha
Mr. Ajay Laddha
Mr. Manoj Laddha

Organization …
Chairmain
• J R Laddha Financial Services Pvt. Ltd.
• AM Mobile Telecom Pvt Ltd

Related Society & Trust …
President:
• Akhil Bharatvarshiya Maheshwari Mahasabha, Kolkatta
• South Shrinath Dham, Tirupati, (A.P.)

Founder President :
• Shri Giriraj Dharan Maheswari Seva Trust
• Maheswari Bhawan, Govardhan (U.P.)

Founder Trustee :
• Brahma Savitri Ved Vidyapeeth - Pushkar

Managing Trustee :
• Shri Mahaprabhu Ji Baithak, Vallbhacharya Math, Tirupati-Tirumala (A.P.)

Chairman & Trustee :
• Krishnadas Jajoo Smarak Trust, Kolkata
• Manav Kalyan Ashram - Badrinath, Haridwar
• Maheshwari Public School, Ajmer
• Maheshwari Parmarth Seva Trust, Puskar
• All India Shri Vallabh Preeti Seva Samaj, Rameshwaram

Managing Committee Member :
• Shri Aditya Vikram Birla Memorial Business Help Center, Chennai

Patron :
• Jay Ambe Seva Samiti, Ajmer
• Mahesh Kalyan Samiti, Ajmer

Member :
• Rajasthani Foundation, Kolkatta Chapter
• Rajasthan Seva Samiti, Kolkatta
• Sangeet Kala Mandir, Kolkatta
• Bhartiya Sanskrutik Sansad, Kolkatta
• Kolkatta Cosmopolitan Club

Related Location…
Birth: Tibiji, Dist. Ajmer, Rajasthan
Education: Ajmer, Rajasthan
Work Area: Kolkata, West Bangal

Get In Contact:
Address : Everest House, 8th Floor, 46 C, Jawaharlal Nehru Road, Kolkata - 700 071

Tel: +91 - 033 - 2288 2990 / 91 / 93
Email: jrladdha@jrladdha.in
Web: www.jrladdha.in


श्री जोधराज जी लडढ़ा के जीवन के कुछ अनमोल यादगार पल की चित्रित झलकियाँ