Kanbehari Agrawal

Shri Kanbehari Agrawal (CMD, Agrawal Associates)

Kanbehari Agrawal

साहस के साथ संकल्पों के रथ पर बैठकर सच्चाई के रास्ते सफलता की बुलंदियों पर पहुंचने वाले व्यक्तित्व का नाम है श्री कानबिहारी अग्रवाल। जीवन के हरित पट पर खुशहाली की प्राणवान सुगंध बिखरने वाले 63 वर्षीय नौजवान है। उम्र के ढ़लान के बावजूद आपके चेहरे पर मुस्कान झलकती रहती है, न जोश में कमी दिखती है और न चेहरे पर थकान है। श्री कानबिहारी अग्रवाल में गजब का जोश, तत्परता व समाजसेवा के कार्यों हेतु अथाह लगन है। आप कहते हैं कि मनुष्य की उदारता, जलते हुए दीपक और खिलते हुए सुमन की तरह होनी चाहिए। जीने को तो जीवन सभी जीतें है किन्तु सफल जीवन वह है जो औरों के लिए जिया जाता है। फूलों की सुगंध और दीपक की रोशनी की तरह सहयोग की त्रिवेणी से बंजर को हरा-भरा बनाने वाले श्री कानबिहारी अग्रवाल मां भारती के ऐसे अद्भूत लाल है, जिन्होंने अपनी कथनी और करनी को सार्थक करते हुए कर्तव्य निष्ठा व सद्व्यवहार को जीवन संगनी के रूप में अपने दिल में मूर्तिमान किया है। उच्च आदर्शों और सादगी से गुंथा हुआ आपका जीवन आज की नौजवान पीढ़ी के लिए एक महानतम् प्रेरणा है।

श्री कानबिहारी अग्रवाल का जन्म भगवान श्रीकृष्ण की पावन नगरी मथुरा (उत्तर प्रदेश) में 22 अक्टूबर 1951 को हुआ। आपके पिताजी का नाम स्व. श्री देवकीनंदन जी अग्रवाल, माताजी का नाम स्व. श्रीमती रुक्मिणी देवी अग्रवाल, दादाजी का नाम स्व. श्री श्रीनाथप्रसाद अग्रवाल (मिठाईवाले) एवं नानाजी का नाम स्व. श्री हीरालाल अग्रवाल (बजाज) है। बचपन से ही कुशाग्र बुद्धि के धनी श्री कानबिहारी अग्रवाल में गजब की विलक्षण प्रतिभा थी। बचपन से ही श्री कानबिहारी अग्रवाल की सोच में समझ व्याप्त हो गई थी, प्रतिभाएं कभी प्रेरणाओं की मोहताज नहीं होती। वे तो अपना दीपक स्वयं लेकर चलती हैं और अंधकार में प्रकाश का आह्वान करती है। श्री कानबिहारी अग्रवाल ऐसी ही एक प्रतिभा के रूप में उभरकर मेधावी विद्यार्थी के रूप में अपना स्वयं का मुकाम बनाया। अथक मेहनत, लगन व परिश्रम के कारण से शिक्षा के उच्चतम शिखर पर आरूढ़ होने का ख्वाब हकीकत में बदलते हुए सीमित साधनों में इंटर सांइस (12वीं) तक की शिक्षा मथुरा में ही पूर्ण की।

जवानी की दहलीज पर कदम रखते ही जो युवा स्वयं के बलबूते पर अपने जीवन को संवारता है, आकार देता है, वही युवा मन आगे जाकर प्रगति का परचम लहराता है। श्री कानबिहारी अग्रवाल एक ऐसे ही युवा का नाम है, जिसने अपना लक्ष्य पाने के लिए कठिन परिश्रम किया और आत्म विश्वास एवं मेहनत की सुनहरी चाबी से अपनी किस्मत के फाटक स्वयं खोल दिखाए। पढ़ाई पूरी कर कुछ कर गुजरने का जज्बा पाले वर्ष 1968 में श्री कानबिहारी अग्रवाल ने देश की आर्थिक राजधानी मुम्बई को अपनी कर्मभूमि बनाया। श्री कानबिहारी अग्रवाल का शुरूआती दौर काफी संघर्षों से भरा रहा। कुछ वर्षों तक कठोर परिश्रम से थोड़ा बहुत धन इकट्ठा कर आपने अपने अनुज श्री उदेश अग्रवाल के साथ मिलकर कपड़े का व्यवसाय “मैसर्स मनोज टेक्टाइल्स” के नाम से शुरू किया। शीध्र ही दोनों भाईयों ने अपनी दूरदर्शिता, व्यवहार कुशलता व व्यावसायिक ईमानदारी के त्रिवेणीसंगम से मुम्बई के सुप्रसिद्ध वस्त्र व्यावसायी की कतार में अपना स्थान बना लिया। वस्त्र व्यापार में स्वयं को स्थापित करने के पाश्चात् दोनों भाइयों ने अपने कारोबार का विस्तार करते हुए रक्षा संस्थानों व अन्य सरकारी विभागों में सभी प्रकार का सामान सप्लाई करने एवं कान्ट्रेक्ट (मैसर्स – अग्रवाल एसोसियट्स) लेने के क्षेत्र में कदम रखा। अपने स्वाभिमान और संगठन कौशल के साथ सुझ-बूझ का परिचय देते हुए आपने आपको नामी ठेकेदार के रूप में स्थापित किया तथा मैसर्स – शार्प केबल्स प्रा. लि. के नाम से इलेक्ट्रीकल्स केबल्स व एलाइड प्रॉडक्स का भी व्यवसाय प्रारंभ किया।

श्री कानबिहारी अग्रवाल व्यवसाय की आशातीत सफलता तक ही सीमित नहीं है। आपकी सोंच का दायरा भी आपके विराट व्यक्तित्व की तरह विराट व वैविध्यपूर्ण है। व्यवसाय के चरमोत्कर्ष शिखर पर आरूढ़ होने के बावजूद आप में भारतीय शिष्टाचार संस्कृति की सुगंध व संस्कारों की सुवासिनी देखने को मिलती है। कर्मठता, निःस्वार्थ सेवा, सभी के प्रति समानता, साहित्य सेवा, समाज सेवा, वाणी में मधुरता, विद्वता और व्यावसायिकता ये सभी गुण एक साथ हमें सरस्वती पुत्र श्री कानबिहारी अग्रवाल के जीवन में साक्षात दिखायी देते हैं। सहृदय, संवेदनशील, हंसमुख स्वभाव के धीर-धनी श्री कानबिहारी अग्रवाल ने व्यवसाय व समाजसेवा का अद्भूत तारतम्य बनाते हुए व्यवसाय में स्थिरता हासिल करने के बाद सन् 1985 से सामाजिक गतिविधियों में हिस्सा लेना शुरू किया।

भगवान श्रीकृष्ण की पावन नगरी मथुरावासी श्री कानबिहरी अग्रवाल को बचपन से ही रामलीला तथा कृष्णलीला में गहरी दिलचस्पी रही है। इस दिलचस्पी को सकार रूप देते हुए आपने 1985 में “श्री बृजमंडल” एवं “श्री आदर्श रामलीला समिति, मुम्बई” में बतौर सदस्य के रूप में शामिल हुए। आपने संगठन कौशल के साथ सूझ-बूझ का परिचय देते “श्री आदर्श रामलीला समिति, मुम्बई” में लीलामंत्री एवं संयुक्तमंत्री तक का सफर तय किया है तथा श्री बृजमंडल, मुम्बई” के संयुक्तमंत्री, कोषाध्यक्ष तक आसीन होकर आज आप ट्रस्टी हैं। इसके अलावा आप “अग्रवाल सेवा समाज, मुम्बई” के कोषाध्यक्ष, संयुक्त मंत्री व उपाध्यक्ष, “अग्रोहा विकास ट्रस्ट, मुम्बई” शाखा के केंद्रीय समिति के कार्यकारिणी सदस्य, समिति क्रमांक -1 के कोषाध्यक्ष, समिति क्रमांक -5 के मानद् मंत्री पदों पर रहकर कार्य कर चुके है। आप “अग्रायन, मुम्बई”, लायंस क्लब ऑफ मुम्बई हर्बर के सदस्य, अग्रोहा विकास ट्रस्ट (हिसार-हरियाणा) के ट्रस्टी, अग्रबंधू सेवा समिति, मुम्बई के ट्रस्टी एवं दिल्ली से प्रकाशित मासिक पत्रिका “मंगल-मिलन” के सम्मानित संरक्षक भी है। आपने अग्रोहाधाम, हिसार स्थित महाराजा अग्रसेन मंदिर परिसर में भक्तों की सुविधा के लिए अपने संयुक्त परिवार की ओर से कमरे का निर्माण भी कराया है। विभिन्न सामाजिक, शैक्षणिक, धार्मिक संस्था, संगठनों ने आपकी कार्यकुशलता से प्रभावित होकर सम्मानित भी किया है।

आपका विवाह जून 1974 में मुम्बई निवासी स्व. श्री सुखलाल जी अग्रवाल की सुपुत्री श्रीमती हंसा अग्रवाल के साथ मथुरा में सम्पन्न हुआ। आपके ससुराल पक्ष का मावा का व्यवसाय “मैसर्स – दीपचंद पन्नालाल” नाम से गुलालवाड़ी, मुम्बई में तथा कोरूगेटेड़ बॉक्स निर्माण करने का कारखाना “मैसर्स - शेल कोरूगेटिंग इण्डस्ट्रीज” के नाम से वसई, जिला- थाना, महाराष्ट्र में है। आपकी दोनो पुत्रियाँ कुमारी कामिनी अग्रवाल, जो कि व्यवसाय से डॉक्टर (बी.डी.एस.) है, का विवाह आगरा निवासी श्री मनोजकुमार जी मुरारीलाल अग्रवाल के साथ सम्पन्न हुआ। जिनका आगरा में मैसर्स किरोड़ीमल एण्ड संस के नाम से ज्वैलरी शोरूम है। दूसरी पुत्री कुमारी सरिता अग्रवाल (बी.कॉम), का विवाह नासिक निवासी श्री नितेश कुमार जी निर्मलकुमार अग्रवाल के साथ सम्पन्न हुआ। जिनका बिल्डिंग कन्स्ट्रक्शन व रियल स्टेट का व्यवयाय नासिक तथा कपड़ा के शोरूम इंदौर में है। आपकी दो बहिन भी हैं। श्रीमती कविता जिनका विवाह सन् 1977 में मुम्बई में प्रसिद्ध वस्त्र निर्माता श्री राजेन्द्र कुमार जी कानोड़िया के साथ सम्पन्न हुआ। दूसरी बहिन श्रीमती रेनू जिनका विवाह सन् 1985 में श्री बृजमोहन जी गुप्ता (अनुज श्री मनमोहन जी गुप्ता, जिनके कि मै. एम.एम. मिठाईवाले, मलाड़, मै. ग्लोबल एडवरटाईजर्स, बोरीवली तथा रियल स्टेट के कार्य भी मुम्बई में है।

वर्तमान में भी आपका संयुक्त परिवार है जिसमें आपके छोटे भाई श्री उदेश अग्रवाल एवं उनके सुपुत्र चि. धर्मेश अग्रवाल, चि. धीरेश अग्रवाल, चि. मनीष अग्रवाल साथ में रहते है। छोटे भाई के तीनों सुपुत्र एवं आपके दो सुपुत्र चि. मनोज अग्रवाल, चि. शैलेश अग्रवाल सभी बी.कॉम फाइनल कर पारिवारिक व्यावसायों को ही संयुक्त रूप से संभाल रहे है। आप आज जिस मुकाम तक पहुँचे है उसके लिये मुम्बई में विराजित माँ मुम्बादेवी एवं अपने बुजुर्गो का आशीर्वाद मानते है तथा इसका श्रेय अपने पूरे संयुक्त परिवार को देते है। जिनसे समय-समय पर सामाजिक एवं धार्मिक कार्यों से जुड़े रहने की प्रेरणा व सहयोग निरंतर मिलता है। आप का ध्येय एक ही है कि जीवन पर्यन्त अपने व्यापार के साथ सामाजिक एवं धार्मिक संगठनों से जुड़े रहते हुए सकारात्मक कार्य करते रहें।


Biography

Basic Info…
Name: Shri Kanbehari Agrawal
Born: 22 October 1951
Education: Inter Science (12th)
Profession: Business

Family Member Info…
Father: Late Shri Devkinandan Ji Agrawal
Mother: Late Smt. Rukmani Devi Ji Agrawal

Wife: Smt. Hansa Agrawal

Son:
Shri Manoj Agrawal (B.Com)
Shri Shailesh Agrawal (B.Com)

Daughters in Law:
Smt. Nutan Manoj Agrawal
Dr. Puja Shailesh Agrawal

Daughter & Son in Law:
Dr. Kamini - Manoj Agrawal (Agra)
Smt. Sarita - Nitesh Agrawal (Nasik)

Grand Children:
Prisha, Devaansh, Jairaaj

Brother: Shri Udesh Agrawal
Sister in Law: Jyoti Udesh Agrawal

Nephews:
Shri Dharmesh Agrawal (B.Com)
Shri Dhiresh Agrawal (B.Com)
Shri Manish Agrawal (Animation Graphics)

Nephews Wife:
Smt. Anjali Dharmesh Agrawal
Smt. Monika Dhiresh Agrawal

Nephews Children:
Kashvi, Deva, Raghav

Sister & Brother in Laws:
Smt. Kavita - Rajendra Kanodia (Mumbai)
Smt. Renu - Brijmohan Gupta (Mumbai)

Organization …
• Agrawal Associates
• Sharp Cable Pvt. Ltd.
• Dharmesh Enterprises
• Shailesh Brothers

Related Society & Trust …
Trustee:
• Shri Brajmandal, Mumbai
• Agrabandhu Seva Samiti, Mumbai
• Agroha Vikas Trust, Hisar (Hariyana)

Joint Secretary :
• Shri Adarsh Ramleela Samiti, Mumbai

Patron Member :
• Mangal-Milan, Monthly Magazine, Delhi
• Agrawal Seva Samaj, Mumbai

Member :
• Agrayan, Mumbai
• Lions Club of Mumbai Harbour
• Akhil Bhartiya Agrawal Sammelan, Delhi

Related Location…
Born: Mathura (Uttar Pradesh)
Education: Mathura (Uttar Pradesh)
Work Area: Mumbai (Maharashtra)

Get In Contact
Address :
• 5, Narayan Niwas, 151, Dadyseth Agiary Lane, Kalbadevi Road, Mumbai - 400 002
• 507-B, Ganga, 16 rani Sati Marg, Malad (E), Mumbai - 400097
• 495/497, Chandda Building, Kalbadevi Road, Mumbai - 400002

Mobile: +91 - 9820040889
Tel: 022 - 22000482 / 32948429 / 22066932
Email: Agrawal_Associates@Yahoo.Co.In
Website:


श्री कानबिहारी अग्रवाल के जीवन के कुछ अनमोल यादगार पल की चित्रित झलकियाँ