Shri Ramnarayan Somani (CMD, Mahendrakumar Somani & Co.)

भागवत् भक्ति व मानव सेवा के प्रतीक श्री रामनारायण सोमानी मुम्बई के जाने-माने व्यवसायी, धर्मानुरागी, कर्मयोगी है। सादा जीवन, उच्च विचार में विश्वास रखते हुए आप यहां के विभिन्न समाजिक व धार्मिक संगठनों से जुड़कर धार्मिक कार्यों तथा समाजसेवा को बाखुबी अंजाम दे रहें है। मुम्बई के व्यस्तम जीवन में भी व्यवसायिक कार्यों से प्रतिदिन समय निकाल कर नियमित रूप से आप ‘श्री वेंकटेश देवस्थान (फणसवाड़ी, मुम्बई)’ में आकर अपनी सेवा कार्यों को सुचारू रूप से कर रहें है। आप उसके सन् 2000 ई. से मैनेजिंग ट्रस्टी भी है और आपके कुशल नेतृत्व में इस मंदिर की ख्याति व भक्तों की सुविधा ‘दिन दूनी, रात चौगुनी’ बढ़ रही है। आज से लगभग 86 वर्ष पूर्व स्थापित यह मंदिर ‘छोटा तिरुपतिजी’ के नाम से देश की आर्थिक राजधानी मुम्बई में ख्याति प्राप्त है। इस मंदिर को प्रतिष्ठा के शीर्ष तक लाने में श्री रामनारायण सोमानी जी का महत्वपूर्ण योगदान रहा है।

श्री रामनारायण सोमानी का जन्म ग्राम धनकोली, जिला नागौर, राजस्थान में श्री नथमल सोमानी और श्रीमती सरस्वती सोमानी के घर 4 जनवरी 1940 को हुआ। 3 वर्ष की आयु में पिताजी के साथ आप मुम्बई आ गये। मुम्बई के प्रतिष्ठित मारवाड़ी विद्यालय हाईस्कूल से मैट्रीक तक की पढ़ाई पूरी किया। खलसा कॉलेज मुम्बई से हिन्दी आर्ट से स्नातक की शिक्षा प्राप्त की। पढाई के साथ ही आप स्कूल में स्काउट, क्रिकेट के साथ विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रमों में बढ़-चढ़कर भाग लिया करते थे।

पढ़ाई के दौरान ही आप अपने पिताजी के व्यवसायिक कारोबार से जुड़कर स्टील की ट्रेडिंग का कार्य किया। इसके बाद अपने भाई प्रशांतजी के साथ मिलकर वेलवेट कपड़े का व्यवसाय शुरू किया। नवजीवन सिंथेटिक्स के नाम से व्यवसाय का विस्तार किया। इस कंपनी द्वारा 25 वर्ष पूर्व स्थापित रंगाई और प्रिंटिंग के प्रोसेस हाउस की वेलवेट कपड़े काफी सुन्दर और आकर्षक होते है। नवजीवन नाम से इसके उत्पादन देश ही नहीं विदेशों में काफी प्रसिद्ध हुआ। वर्तमान में यह करोबार ‘नवजीवन सिंथेटिक्स प्रा. लि.’ के नाम से जाना जाता है।

श्रीहरि सत्संग समिति, परमार्थ सेवा समिति, हिन्दुस्तान चेम्बर ऑफ कॉमर्स, माहेश्वरी प्रगति मंडल न्यास, हिंदी विद्याभवन व अन्य कई महत्वपूर्ण संस्थाओं से जुड़े श्री रामनारायण सोमानी को बचपन से ही समाजिक कार्य करने की आदत रही है। आप स्कूल के समय से ही विद्यार्थी परिषद के अंतर्गत सक्रिय सदस्य रहे। आपके पिताजी भी सदैव सामाजिक एवं धार्मिक कार्यों से जुड़े रहे। उनके प्रेरणा से आप भी धीरे-धीरे सामाजिक कार्यों में भी भाग लेने लगे। आपके पिताजी का माहेश्वरी समाज में काफी नाम था। माहेश्वरी प्रगति मंड़ल के सभी कार्यों में सदैव सक्रिय रहते थे। इस कारण आप भी माहेश्वरी प्रगति न्यास में आये और इस समय भी न्यास मंडस में सक्रिय है। मरीन ड्राइव सिटिजन एसोसिएशन, फिर वेस्टर्न इंडिया चेम्बर्स ऑफ कॉमर्स का सदस्य बने। आगे चलकर इन दोनों संस्थाओं के अध्यक्ष पद का दायित्व भी आपको मिला। वर्तमान में भी आप मरीन ड्राइव सिटिजन एसोसिएशन के अध्यक्ष है। 35 वर्ष पुरानी यह संस्था विभिन्न समाजिक कार्यों को करती आ रही है। 1993 में पिताजी के स्वर्गवास के बाद आप श्री वेंकटेश देवस्थान फणसवाड़ी के ट्रस्ट बोर्ड में आये और वर्ष 2000 में इसके मैनेजिंग ट्रस्टी बनायें गये।

श्री वेंकटेश देवस्थान फणसवाड़ी मंदिर की मैनेजिंग ट्रस्टी के रूप में रामनरायण सोमानी जी ने यहाँ कई महत्वपूर्ण कार्यों तथा व्यवस्था की शुरूआत किया। इन्होंने मंदिर की जीर्णोद्धार के साथ ही स्वामी जी के आवासीय भवन को भी पुनः निर्माण करायें, जो स्वामी जी के प्रति उनकी श्रद्धाभाव को प्रदर्शित करता है। इनके नेतृत्व में मंदिर की प्रतिष्ठा और इसकी लोकप्रियता का अंदाज इसी से लगाया जा सकता है, कि मंदिर में रखे दान-पात्र में अवक पहले से दो से तीन गुणा तक हो गया है। प्रतिदिन नियमित रूप से सुबह-शाम मंदिर में सामुहिक रूप से निःशुल्क प्रसाद का वितरण बिना किसी भेद-भाव के किया जाता है। बुधवार को बड़े प्रसाद का भी आयोजन होता है। श्री सोमानी जी भागवद् भक्त के साथ ही मानव सेवी भी हैं। इस मंदिर की श्रद्धा भक्ति के साथ मानव सेवा का जज्बा किसी से छुपा नहीं हैं। इस मंदिर में ही आयुर्वेदिक अस्पताल की व्यवस्था भी हैं, जहां कुशल आयुर्वेदाचार्य द्वारा निरीक्षण के बाद मरीजों को दवा का निःशुल्क वितरण करते हैं यहां प्रतिदिन 200-250 की संख्या में मरीज स्वास्थ्य लाभ लेने के लिए आते है। इनके अतिरिक्त दैवी आपदा से पीड़ित इंसानों की मदद भी श्री सोमानी जी बड़ी निष्ठा और जिम्मेदारी के साथ करते हैं। इनके इस प्रकार की क्रिया प्रणाली से मंदिर के सभी छोटे-बड़े कर्मचारी, पुजारी और आने वाले भक्त श्रद्धालु सदैव उनके प्रति श्रद्धानवत रहते हैं।

सफलता के शिखर पर विराजमान श्री रामनारायण सोमानी अपनी इस सफलता का श्रेय अपने पिताजी श्री नथमल सोमानी को देते है। पिताजी के मार्गदर्शन और माताजी के आशिर्वाद से आपको आगे बढ़ने में कठिनाई नहीं हुआ, वे सदैव आपको प्रेरणा देते रहें हैं। आपके परिवार के अन्य सदस्यों का भी आपको भरपूर सहयोग मिला। आपके परिवार में आपके तीन भाई श्री महेंन्द्र सोमानी, श्री प्रकाश सोमानी, श्री प्रशांत सोमानी के साथ पत्नी श्रीमती पद्मा देवी सोमानी, बच्चे ध्रुव सोमानी, श्रृति सोमानी, अंजलिका सोमानी, पौत्री अवंतिका, इशिका और पौत्र अक्षय का समावेश है।


Biography

Basic Info…
Name : Shri Ramnarayan Somani
Born : 04 January 1940
Education : BA Hon (Hindi)
Profession : Business

Family Member Info…
Father : Late Shri Nathmal Somani
Mother : Late Smt. Sarswati N. Somani

Wife : Smt. Padma Devi Somani

Son :
Mr. Dhruv Soamni

Daughter in Law :
Smt. Shruti D. Somani

Daughter :
Smt. Anjalika S. Maroo

Grand Children:
Avantika, Ishika, Akshya

Brothers :
• Shri Mahendra Somani
• Shri Prakash Somani
• Shri Prashant Somani

Associations and Welfare activities …
Managing Trustee :
• Shri Venkatesh Devasthan, Mumbai

President :
• Marine Drive Citizen Association, Mumbai

Ex-President :
• Western India Chambers Of Commerce
• Loins Clubs of Malad East, Mumbai

Committee Member :
• Hindustan Chamber of Commerce’s

Member :
• Shri Hari Satsang Samiti, Mumbai
• Parmarth Seva Samiti, Mumbai
• Maheshwari Pragati Mandal, Mumbai
• Hindi Vidya Bhavan, Mumbai

Life Time Member :
• Garware Club House, Mumbai

Related Location…
Birth: Dhankoli, Dist - Nagour, Rajasthan
Education: Mumbai, Maharastra, India
Work Area: Mumbai, Maharastra, India

Get In Contact:
Address :
158/164, Kalbadevi Road, 4th Floor, Laxmi Bhavan, Mumbai-400 002, India

Tel: +91 - (022) - 6748 8000
Email: nmscompany@rediffmail.com


श्री रामनारायण सोमानी के जीवन के कुछ अनमोल यादगार पल की चित्रित झलकियाँ