इनकम टैक्स डिकिलरेशन स्कीम व गोल्ड मोनेटाइजेशन स्कीम पर परिचर्चा की चित्रित झलकियाँ

फिक्की एवं द इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टेट एकाउंटेंट ऑफ इंडिया के संयुक्त परिधान में इनकम टैक्स डिकिलरेशन स्कीम व गोल्ड मोनेटाइजेशन स्कीम पर परिचर्चा का आयोजन मुम्बई के वाई. बी. च्वहाण ऑडिटोरियम में किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के रूप में श्री अरूण जेटली (वित्त मंत्री, भारत सरकार) उपस्थित हुए। कार्यक्रम की शुरूआत डॉ. ज्योतना सूरी (पूर्व अध्यक्ष, फिक्की) के स्वागत भाषण से हुआ। द इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टेट एकाउंटेंट ऑफ इंडिया (ICAI) के अध्यक्ष सी.ए. एम. देवराजा रेड्डी तथा सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्ट टैक्स के चेयरपर्सन श्रीमती रानी सिंह नायर ने हाल ही में भारत सरकार द्वारा पास किये गये जी.एस.टी. तथा इनकम टैक्स डिकिलरेशन स्कीम व गोल्ड मोनेटाइजेशन स्कीम पर उपस्थित लोगों को विस्तार से जानकारी दी।
वित्त मंत्री श्री अरूण जेटली ने अपने सम्बोधन में लोगों को पूर्व टेक्स प्रणाली की खामिया तथा नये टैक्स प्रणाली (जी.एस.टी.) के लाभ से लोगों को अवगत कराया। साथ ही परिचर्चा के दौरान उपस्थित लोगों के शंकाओं तथा प्रश्नों के उत्तर देकर निराकरण किये। इस अवसर पर रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के नव-नियुक्त गवर्नर श्री उर्जित पटेल, सासंद किरीट सोमैया, विधायक राज के पुरोहित सहित विभिन्न एसोसिएशन के अध्यक्ष, सदस्य तथा अतिप्रतिष्ठित बुद्धिजीवी वर्ग उपस्थित हुये।