आशीर्वाद एवं ज्ञान गंगोत्री काव्य मंच के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित काव्य सरिता “छू लो आसमान” की चित्रित झलकियाँ

“अगर देखनी है इनकी उडान तो और ऊँचा कर दो आसमान” कुछ इसी तरह की बातें उजागर हुई साहित्यिक, सांस्कृतिक संस्था आशीर्वाद एवं ज्ञान गंगोत्री काव्य मंच के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित काव्य सरिता “छू लो आसमान” में। सारी महिलाओं ने एक से बढ़ कर एक काव्य पाठ किया और अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाया। सभी रचनाएं संजीदा, हास्य, व्यंग, सास-बहू, नारी उत्पीडन पर उनकी सहन शक्ति की मिसाल दे रही थी। लोढ़ा सुप्रिमस (गीता टॉकीज्), वर्ली नाका में आयोजित इस कार्यक्रम में आये अतिथियों का स्वागत श्रीमती नीता बाजपेयी ने किया। कार्यक्रम की भूमिका श्रीमती मंजू लोढ़ा एवं बीना लढ्ढ़ा ने रखी। डॉ. अनंत श्रीमाली ने कार्यक्रम का कुशल संचालन किया। कार्यक्रम में पूर्व चुनाव आयुक्त नीला सत्यनारायण, प्रसिद्ध कोरियोग्रफर संदीप सोपारकर, विधायक मंगल प्रभात लोढ़ा, सुप्रसिद्ध निर्माता-निर्देशक सुरज बडजात्या, सुप्रसिद्ध वरिष्ठ शायर खन्ना मुजफ्फरपुरी, आशीर्वाद के अध्यक्ष श्री बृजमोहन अग्रवाल आदि मौजुद थे। सभी अतिथियों का सम्मान डॉ उमाकांत वाजपेयी ने किया।